मिल्खा सिंह के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विटर पर दी विन्रम श्रद्धांजलि

भारतीय प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार की रात कोविड-19 संबंधित जटिलताओं के कारण महान एथलीट  मिल्खा सिंह की मृत्यु की खबर पर सोशल मीडिया द्वारा दुःख प्रकट किया. मिल्खा सिंह ने 91 साल की उम्र में चंडीगढ़ के एक अस्पताल में अंतिम सांस ली.

मिल्खा सिंह का उनकी पत्नी के 5 दिन बाद निधन हो गया.  भारत की पूर्व वॉलीबॉल कप्तान निर्मल कौर का 85 वर्ष की आयु में इसी बीमारी के कारण निधन हो गया. मिल्खा और निर्मल सिंह के परिवार में तीन बेटियां डॉ मोना सिंह, अलीजा ग्रोवर, सोनिया सांवल्का और बेटा जीव मिल्खा हैं, जो एक गोल्फ खिलाड़ी हैं. जीव पिछले महीने दुबई से चंडीगढ़ आया था, जबकि उसकी बेटी मोना अपने माता-पिता की देखभाल करने के लिए अमेरिका से उड़ान भरी थी.

शुक्रवार रात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जैसी ही मिल्खा सिंह के निधन की खबर मिली, उन्होंने वैसे ही ट्विटर के माध्यम से उन्हें विन्रम श्रद्धांजलि दी. पीएम ने लिखा, “हमने एक महान खिलाड़ी खो दिया है, जिसने देश की कल्पना पर अधिकार कर लिया था और भारतीयों के दिलों में स्पेशल स्थान था. उनके प्रेरक व्यक्तित्व ने खुद को लाखों लोगों के लिए प्रिय बना दिया था. उनके निधन से काफी दुखी हूँ.”

पीएम ने आगे लिखा. “मैंने कुछ दिन पहले ही श्री मिल्खा सिंह जी से बात की थी. मुझे नहीं पता था कि यह हमारी आखिरी बातचीत होगी. कई नवोदित एथलीटों को उनकी जीवन यात्रा से ताकत मिलेगी. उनके परिवार और दुनिया भर में कई प्रशंसकों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं.”

मिल्खा सिंह चार बार के एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता और 1958 के राष्ट्रमंडल खेलों के चैंपियन थे, लेकिन उनका सबसे बड़ा प्रदर्शन 1960 के रोम में 400 मीटर फाइनल में चौथा स्थान था. उन्होंने 1956 और 1964 के ओलंपिक में भी भारत का प्रतिनिधित्व किया और 1959 में उन्हें पद्म श्री से सम्मानित किया गया.

उनके निधन की खबर मिलते ही सोशल मीडिया पर फ्लाइंग सिख के लिए शोक संदेशों की बाढ़ आ गई. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से लेकर टेनिस सुपरस्टार सानिया मिर्जा तक, प्रसिद्ध हस्तियों ने भारत के सबसे महान एथलीटों में से एक के खोने पर शोक व्यक्त किया.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *